पीड़िता नाबालिग ने दिया बच्ची को जन्म, कौन है पिता नहीं पता, अब…

0
86
यंग भारत ब्यूरो
नई दिल्ली. राजधानी के हजरत निजामुद्दीन इलाके में 8 महीने पहले नाबालिग से हुए गैंगरेप मामले में अब एक नया मोड़ आ गया है. गैंगरेप पीड़िता नाबालिग ने दो दिन पहले एम्स अस्पताल में एक बच्ची को जन्म दिया है. इसके साथ ही बड़ा सवाल ये खड़ा हो गया है कि बच्ची का पिता कौन है. जानकारी के अनुसार दो युवकों ने नाबालिग का गैंगरेप किया था, जिसके कुछ समय बाद युवती गर्भवती हो गई थी. गर्भवती होने के बाद ही परिजनों को नाबालिग के साथ हुए गैंगरेप के बारे में जानकारी मिली थी. परिजनों ने 29 नवंबर 2021 को पुलिस ने मामला दर्ज करवाया था.
अश्लील फोटो-वीडियो से किया था ब्लैकमेल
पुलिस ने बताया कि दो युवकों ने नाबालिग के अश्लील फोटो और वीडियो के नाम पर ब्लैकमेल कर युवती के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया था. मामला सामने आने के बाद पुलिस ने लड़की का मेडिकल करवाया और साथ ही काउंसलिंग भी दिलावाई. मामले की जांच के बाद पॉक्सो एक्ट में मामला दर्ज कर असम के निवासी नुब्रता और नीलचंद को गिरफ्तार कर लिया गया.
अब होगा डीएनए टेस्ट
पुलिस अब नाबालिग की बच्ची के पिता की पहचान के लिए दोनों युवकों का डीएनए टेस्ट करवाएगी. वहीं युवती के परिजनों ने बताया कि मंगलवार को अचानक युवती के पेट में तेज दर्द हुआ. जिसके बाद उसे एम्स में भर्ती करवाया गया. वहां पर पीड़िता ने एक बेटी को जन्म दिया. अब पीड़िता के परिजन परेशान हैं कि बच्ची का पिता कौन है. परिजनों की मांग है कि बच्ची के पिता का पता लगाने के साथ ही आरोपियों पर सख्त कार्रवाई की जाए. साथ ही परिजनों ने आरोप लगाया कि पुलिस ने आरोपियों को लंबे समय तक गिरफ्तार भी नहीं किया. वहीं डॉक्टरों के अनुसार पीड़िता और नवजात दोनों की ही हालत स्थिर है. समय से पहले डिलीवरी के चलते नवजात कुछ कमजोर है इसलिए उसे अभी निगरानी में रखा गया है.
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here