रेलवे का बड़ा फैसला, अब कोई भी ले सकता है किराए पर ट्रेन

0
128
यंग भारत ब्यूरो
भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने अब ट्रेन की यात्रा करने वालों को एक खास ऑफर दिया है. अब देश में एक ऐसी योजना शुरू होने जारी रही है. इस नई योजना के तहत कोई भी राज्य या व्यक्ति ट्रेनों को किराए पर ले सकता है. इन ट्रेनों को ‘भारत गौरव ट्रेन’ (Bharat Gaurav Train) नाम दिया गया है. हालांकि इस स्कीम के लिए लिए कुछ तय शर्तों को पूरा करना होगा और रेलवे इसके बदले उनसे न्यूनतम किराया वसूल करेगी.
भारत गौरव ट्रेन
केंद्र सरकार की देश में फिलहाल 180 भारत गौरव ट्रेनें चलाने की योजना है. इसमें तीन हजार से ज्यादा कोच होंगे. रेलवे ने इसके लिए आवेदन लेने की प्रक्रिया शुरू भी कर दी है और इसको लेकर अच्छी प्रतिक्रिया भी मिलने लगी है. रेलवे की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक भारत गौरव ट्रेनों का संचालन निजी क्षेत्र और IRCTC दोनों की तरफ से किया जा सकता है. वहीं टूर ऑपरेटर की ओर से इसका किराया तय किया जाएगा. यह ट्रेनें भारत की संस्कृति, विरासत को प्रदर्शित करने वाली थीम पर आधारित होंगी.
मुख्य उद्देश्य
फिलहाल लगभग 180 ट्रेन इसके लिए निर्धारित की गई हैं. यात्री, माल ढुलाई के बाद रेलवे पर्यटन के लिए ट्रेनों का तीसरा सेगमेंट शुरू करने जा रहा है. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने योजना का ऐलान करते हुए कहा कि स्टेकहोल्डर्स इन ट्रेनों को मॉर्डन बनाएंगे और चलाएंगे जबकि रेलवे इन ट्रेनों के मेंटेनेंस, पार्किंग और अन्य सुविधाओं को मुहैया कराने का काम करेगा.
उन्होंने कहा कि यह रेगुलर ट्रेन सर्विस की तरह नहीं होगी और न ही ये आम ट्रेन सर्विस है. भारत गौरव ट्रेनों का मुख्य उद्देश्य भारत में पर्यटन को बढ़ावा देना है. रेल मंत्री के मुताबिक अभी सिर्फ पर्यटन को फोकस रख कर इन ट्रेनों का संचालन शुरू किया जा रहा है. प्रधानमंत्री ने कहा है कि रेलवे को भारतीय संस्कृति और सभ्यता से जोड़ा जाए, यही वजह है कि भारत के गौरव को दिखाने के लिए रेलवे शुरू की जाएगी. ये विशेष ट्रेनें कोई भी राज्य, व्यक्ति या संस्था संचालित कर सकेगी.
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here