4 साल के मासूम ने दी कोरोना को मात

0
19

अमर भारती : उज्जैन में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच राहत भरी खबर भी आ रही है। कई लोग इस बीमारी को हराकर अपने घर लौट रहे हैं। रविवार को भी 18 संक्रमित डिस्चार्ज हुए। इनमें अपने माता-पिता के साथ अस्पताल में भर्ती 4 साल का बच्चा भी शामिल है। अस्पताल से छुट्टी मिलने पर अपर कलेक्टर एसएस रावत ने कहा कि मासूम ने दुनिया की सबसे बड़ी बीमारी को हरा दिया। उधर एक पॉजिटिव मां के साथ 6 महीने की मासूम को भी आइसोलेशन में रहना पड़ा। बेटी की रिपोर्ट निगेटिव आई थी, दोनों को डिस्चार्ज कर दिया गया।

कुछ समय पहले लोगों को लग रहा था कि कोरोना संक्रमित होने के बाद जान बचना मुश्किल है। लेकिन अब तेजी से हालात बदल रहे हैं। रविवार को 18 और लोगों को स्वस्थ होने पर घर पहुंचाया गया। इनमें चार वर्षीय पुत्र और उसके माता-पिता भी शामिल थे। तीनों ने कोरोना से एक साथ जीत हासिल की। चार साल के बेटे को कोरोना होने से उसके माता-पिता और परिवार वाले भी चिंतित थे, लेकिन जब उनकी लगातार दूसरी रिपोर्ट नेगेटिव आई तो सभी की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। हॉस्पिटल से रविवार को डिस्चार्ज करते समय अपर कलेक्टर सुजान सिंह रावत ने नन्हें बालक की हिम्मत की दाद दी और कहा कोरोना से डरने की जरूरत नहीं बिना डरे लड़ने की आवश्यकता है।