Father’s Day 2021: जानिए क्यों मनाया जाता है ‘फादर्स डे’, क्या है इस दिन का महत्व

0
38
लखनऊ: हर साल जून के तीसरे रविवार को फादर्स डे (Fathers Day) मनाया जाता है. जिस तरह मां के प्रति सम्मान और स्नेह के लिए हर साल मदर्स डे मनाया जाता है, उसी तरह पिता के प्यार और स्नेह के लिए हर साल फादर्स डे (father’s day) मनाया जाता है. इस साल यानी 2021 में यह दिवस रविवार, 20 जून को पड़ रहा है.
ये दिन दुनिया भर में अलग-अलग तिथियों पर मनाया जाता है. यूरोप में, ये दिन 19 मार्च को ‘सेंट जोसेफ दिवस’ के रूप में मनाया जाता है, जबकि संयुक्त राज्य अमेरिका में, ये जून के तीसरे रविवार को मनाया जाता है. ऑस्ट्रेलिया में, समोआ और एस्टोनिया में राष्ट्रीय अवकाश के रूप में मनाया जाता है.
क्या है ‘फादर्स डे’ का इतिहास
इस दिन को सोनोरा स्मार्ट डॉस नाम की एक महिला ने बनाया था, जिसे उसके पिता ने 5 अन्य भाई-बहनों के साथ अकेले ही पाला था. वो पुरुष माता-पिता के लिए मातृ दिवस के समकक्ष एक आधिकारिक स्थापित करना चाहती थी. 19 जून, 1910 को, वाशिंगटन राज्य ने इस दिन को ‘फादर्स डे’ के रूप में घोषित किया. वहीं इसके बाद साल 1916 के तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति वुडरो विल्सन ने इस दिन को मनाने को स्वीकृति दी थी. 1924 में राष्ट्रपति कैल्विन कुलिज ने फादर्स डे को राष्ट्रीय आयोजन घोषित किया था. मगर इसे जून के तीसरे रविवार को मनाने का फैसला 1966 में राष्ट्रपति लिंडन जॉनसन ने लिया था. वहीं 1972 में पहली बार यह दिन नियमित अवकाश के रूप में घोषित किया गया.
‘फादर्स डे का महत्व’
पितृत्व का सम्मान करते हुए, इस दिन बच्चे अपने पिता के प्रयासों और परिवार में योगदान को स्वीकार करते हैं. अपने पिता को विशेष महसूस कराने के लिए, वो उन्हें उपहार, दिल को छू लेने वाले कार्ड, सैर-सपाटे और रात का खाना साथ खाते हैं. बच्चे जितना हो सके अपने पिता के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताने की कोशिश करते हैं. आमतौर पर बच्चों का अपनी मां के साथ घनिष्ठ संबंध होता है, इसलिए ये दिन उनके पिता के साथ अज्ञात अंतर को पाटने में भी मदद करता है.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here