अखिलेश मुझसे ज्यादा योग्य नहीं : डॉ. रामशंकर कठेरिया

0
23
इटावा। राजकीय इंटर कॉलेज मैदान में बुुधवार को अखिल भारतीय कठेरिया धानुक महासंघ का महासम्मेलन हुआ। सम्मेलन में समाज को शिक्षित बनाने के लिए विशेष कार्ययोजना बनाने और समाज को संगठित रहने का मूल मंत्र दिया गया। सम्मेलन में जिले भर से लोग शामिल हुए। सम्मेलन में पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा सांसद डॉ. रामशंकर कठेरिया ने कहा कि अखिलेश मुझसे ज्यादा योग्य नहीं है। मैं पीएचडी हूं और प्रोफेसर भी। बावजूद इसके अखिलेश के साथ उनके समाज के लोग आंख बंद करके खड़े हैं। इटावा के ही मुलायम सिंह यादव के साथ भी उनका सारा समाज आंख बंद करके चल दिया। मैं भी पीएचडी हूं और प्रोफेसर हूं, तो क्या धानुक-कठेरिया समाज एक नही हो सकता है।
उन्होंने कहा कि पश्चिमी क्षेत्र से बहुत से लोग दिल्ली जाते हैं। अलग-अलग तरह से काम करते हैं। समाज के युवाओं को भी आगे आना चाहिए और कोई ना कोई हुनर सीखना चाहिए। इस हुनर से ही अपने पैरों पर खड़े होंगे और समाज का नाम भी रोशन करेंगे। उन्होंने कहा कि विभिन्न योजनाओं के तहत सरकार ऋण दे रही है। इसके लिए आवेदन करें और ऋण लेकर कारोबार करें। चाहे सब्जी बेचे कपड़ा बेचे या और कोई कारोबार करें।
उन्होंने कहा कि युवाओं को खाली नहीं बैठना चाहिए, समाज की सेवा करनी चाहिए। सेवा में लगे और सेवा कर के ही प्रधान से लेकर सांसद तक के पद हासिल किए जा सकते हैं। लोगों के दिलों में जगह बना कर चुनाव जीते और जनप्रतिनिधि बनें। इस धरती पर रहने वाले सभी लोग एक हैं सभी का एक डीएनए है। किसी के साथ भेदभाव नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि वे लगातार समाज के हित के लिए कार्य कर रहे हैं और समाज के हित के लिए सड़क से संसद तक संघर्ष करने को हमेशा तैयार है। उन्होंने यह भी कहा कि अब ऑनलाइन व्यवस्था है इसलिए नौकरी सिफारिश से नहीं मिलती बल्कि योग्यता से मिलेगी ।
इस सम्मेलन को एससी आयोग के उपाध्यक्ष मिथिलेश कुमार ने एकजुट रहने और आगे बढ़ने का संदेश दिया। विधायक सावित्री कठेरिया ने भी कहा कि समाज में एकजुटता आए और मिलजुलकर सभी तरक्की के रास्ते पर आगे बढ़े। भाजपा नेता सर्वेश कठेरिया, पूर्व प्रत्याशी कमलेश कठेरिया, महाराम सिंह कठेरिया ने भी सभा को संबोधित किया। संचालन श्यामवीर कठेरिया ने किया । इस सम्मेलन में जिलेभर से कठेरिया समाज के लोग जुटे थे।
मैं भी पीएचडी हूं, तो धानुक-कठेरिया समाज एक नहीं हो सकता
मैं भी पीएचडी हूं, तो धानुक-कठेरिया समाज एक नहीं हो सकता
-बोले, अखिलेश मुझसे ज्यादा योग्य नहीं, फिर भी उनके साथ समाज खड़ा है
अखिल भारतीय धानुक कठेरिया सम्मेलन में पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री और भाजपा सांसद प्रोफेसर रामशंकर कठेरिया ने सपा प्रमुख पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधा। उनकी काबलियत पर सवाल उठाते हुए कहा कि अखिलेश बाबू मुझसे ज्यादा योग्य नहीं है। मैं पीएचडी हूं और प्रोफेसर भी। बावजूद इसके अखिलेश के साथ उनके ही समाज के लोग आंख बंद करके खड़े हैं। इटावा के ही मुलायम सिंह यादव के साथ भी उनका सारा समाज आंख बंद करके चल दिया। मैं भी पीएचडी हूं और प्रोफेसर हूं, तो क्या धानुक-कठेरिया समाज एक नही हो सकता है।
समाज के लोगो के शोषण, अन्याय व पुलिस के अत्याचार के खिलाफ सोशल मीडिया का उपयोग कर एक साथ हजार दो हजार लोग एक जुट हो। आंदोलन व प्रदर्शन करने का काम करें। उन्होंने कहा कि समाज के लोग पढ़े लिखें और अफसर, पत्रकार, वकील और विधायक, सांसद बने। ताकि समाज के लोगों को नई दिशा देकर आगे बढ़ाया जा सके।
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here