अखिलेश यादव बोले- BJP के गिर रहे विकेट, बाबा को नहीं आती क्रिकेट

0
48
लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले सभी राजनीतिक दलों की तरफ से बयानबाजी का दौर जारी है. इस बीच समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ पर क्रिकेट के बहाने निशाना साधा है. उन्‍होंने योगी कैबिनेट में मंत्री रहे स्वामी प्रसाद मौर्य और डॉ. धर्म सिंह सैनी समेत कई विधायकों के सपा ज्‍वाइन करने के कार्यक्रम में कहा,’वो जानते होंगे कि उधर लगातार विकेट गिर रहे थे. हालांकि हमारे बाबा मुख्‍यमंत्री क्रिकेट खेलना नहीं जानते हैं. अगर वह क्रिकेट खेलना भी जानते होते तो अब तो उनसे कैच छूट गया.
वहीं, यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा,’मुझे लगता है कि सरकार के लोगों को पहले ही पता लग गया था कि स्वामी प्रसाद मौर्य और धर्म सिंह सैनी के साथ बड़ी संख्या में लोग आ रहे होंगे, इसलिए हमारे मुख्यमंत्री पहले ही गोरखपुर चले गए. हालांकि उनकी 11 मार्च की किसी ने टिकट बुक कर रखी है.’
इसके साथ अखिलेश यादव ने कहा कि मैं स्‍वामी प्रसाद मौर्य का स्‍वागत करता हूं. जैसा कि उन्‍होंने कहा कि मैं जिधर जाता हूं, उधर सरकार बन जाती है. इस बार भी वह अकेले नहीं आए हैं बल्कि काफी संख्‍या में लोगों को लेकर आए हैं. साथ ही कहा कि भाजपा वाले 80:20 की बात कर रहे थे. 80 फीसदी लोग तो पहले ही सपा के साथ खड़े हो गए. जबकि आज स्‍वामी प्रसाद मौर्य की बात सुनकर 20 भी हमारे साथ खड़े हो गए होंगे. साथ ही उन्‍होंने कहा कि जो तीन चौथाई की बात कर रहे थे, आज के बाद वह 3-4 सीटों की बात कर रहे होंगे. यह सच्चाई है. बता दें कि ‘एजेंडा यूपी’ में एक सवाल के जवाब में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि यह चुनाव 80 बनाम 20 का हो गया है. हालांकि उनके इस बयान को हिन्‍दू और मुसलमान वोट बैंक से जोड़ कर देखा गया था.
स्वामी प्रसाद मौर्य ने किया ये दावा
इससे पहले स्वामी प्रसाद मौर्य कहा कि जिसका मैं साथ छोड़ता हूं उसका कोई वजूद नहीं रहता है. बहनजी (मायावती) इसका जीता जागता सबूत हैं. उन्‍होंने कांशीराम का नारा बदल दिया, तो मैंने उसकी विरोध किया, लेकिन वह नहीं मानी और आज उनका कोई वजूद नहीं है. वहीं, उन्‍होंने कहा कि अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) पढ़े लिखे नौजवान हैं और प्रदेश के लाखों लोगों का साथ है. हम उनके साथ मिलकर बीजेपी को नेस्तनाबूद कर देंगे.
आज भाजपा से कौन-कौन हुए सपा में शामिल
स्वामी प्रसाद मौर्या(योगी कैबिनेट में थे मंत्री)
डॉ. धर्म सिंह सैनी (योगी कैबिनेट में थे मंत्री)
भगवती सागर (विधायक)
विनय शाक्य (विधायक)
रौशन लाल वर्मा (विधायक)
डॉ. मुकेश वर्मा (विधायक)
बृजेश प्रजापति (विधायक)
भाजपा छोड़ने वाले विधायकों की सूची
1. स्वामी प्रसाद मौर्य
2. भगवती सागर
3. रोशनलाल वर्मा
4. विनय शाक्य
5.अवतार सिंह भड़ाना
6.दारा सिंह चौहान
7.बृजेश प्रजापति
8.मुकेश वर्मा
9.राकेश राठौर
10.जय चौबे
11.माधुरी वर्मा
12.आर के शर्मा
13. बाला प्रसाद अवस्थी
14.डॉ. धर्म सिंह सैनी
यूपी में 7 चरणों में होंगे चुनाव
बता दें कि यूपी में 7 चरणों में चुनाव होंगे. इन चरणों के तहत 10 फरवरी, 14 फरवरी, 20 फरवरी, 23 फरवरी, 27 फरवरी, 3 मार्च और 7 मार्च को मतदान होगा. जबकि 10 मार्च को चुनाव के नतीजे आएंगे. पहले चरण में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 11 जिलों की 58 विधानसभा सीटों पर वोटिंग होगी.
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here